स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण पत्र बनाने में ढिलाई पर बिफरे कलेक्टर जताई नाराजगी

स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण पत्र बनाने में ढिलाई पर बिफरे कलेक्टर जताई नाराजगी

कोरबा । कलेक्टर संजीव झा ने गुरुवार को समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में विभागीय योजनाओं के प्रगति की विस्तृत समीक्षा की। बैठक में कलेक्टर श्री झा ने स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण पत्र के बारे में जानकारी ली । उन्होंने प्रमाण पत्र बनाने की धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर करते हुए जाति प्रमाण पत्र बनाने में प्रगति लाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। कलेक्टर श्री झा ने स्कूली बच्चों के अभी तक बन चुके जाति प्रमाण पत्र और लंबित आवेदनों की जानकारी ली। उन्होंने शिक्षा विभाग और आदिवासी विकास विभाग के अधिकारियों को समन्वय करके लंबित आवेदनों का जल्द निराकरण कर बच्चों को जाति प्रमाण पत्र से लाभान्वित करने के निर्देश दिए।

साथ ही अनुविभाग स्तर पर जाति प्रमाण पत्र बनने की लगातार मॉनिटरिंग करने के निर्देश सभी एसडीएम को दिए। कलेक्टर श्री झा ने समय सीमा की समीक्षा बैठक में राजस्व प्रकरणों की भी जानकारी ली। उन्होंने बैठक में मौजूद सभी एसडीएम और तहसीलदारों से राजस्व वसूली की जानकारी ली। उन्होंने पटवारियों की बैठक लेकर राजस्व वसूली के कार्यों की लगातार समीक्षा करने और राजस्व वसूली के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश सभी एसडीएम को दिए। समय सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में कलेक्टर श्री झा ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुए जिले के अस्पतालों में ओपीडी, हाट बाजार क्लीनिक और स्वास्थ्य केंद्रों में दवाइयों की उपलब्धता आदि के बारे में जानकारी ली। उन्होंने एनीमिया से पीड़ित बच्चों और महिलाओं की जानकारी लेते हुए उन्हें आयरन और फोलिक एसिड की दवाइयां लगातार वितरित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने बैठक में नए स्वीकृत और निर्माणाधीन गौठानों की जानकारी ली। साथ ही गोबर से वर्मी कंपोस्ट उत्पादन और गौठान में गोमूत्र खरीदी और गोमूत्र से कीटनाशक निर्माण की भी जानकारी ली। कलेक्टर श्री झा ने जिले में स्थापित सी मार्ट में महिला समूह द्वारा उत्पादित सामग्रियों की बिक्री के बारे में भी जानकारी लेते हुए सी मार्ट में उच्च गुणवत्ता और सभी वर्गों के लिए आसानी से उपलब्ध उत्पादों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

कोरबा