विरोध के बीच सीईओ खोटेल गए अवकाश पर, राठौर को दिया गया प्रभार

विरोध के बीच सीईओ खोटेल गए अवकाश पर, राठौर को दिया गया प्रभार

कोरबा। कटघोरा जनपद पंचायत के सीईओ हरनारायण खोटेल को हटाए जाने की मांग करते हुए कटघोरा विकासखंड के पंचायत सचिवों, जनपद सदस्यों द्वारा की जा रही बेमुद्दत हड़ताल के बीच सीईओ खोटेल अवकाश पर चले गए हैं। उनके स्थान पर प्रशासन द्वारा पाली सीईओ व्ही के राठौर को अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

यहाँ बताना होगा कि कटघोरा जनपद पंचायत के सीईओ एचएन खोटेल को हटाने की मांग को लेकर जनपद सदस्यों ने बेमुद्दत हड़ताल शुरू कर दी है। सीईओ खोटेल के खिलाफ जारी धरना प्रदर्शन में सचिव संघ व सरपंच संघ भी खड़ा हो चुका हैं। सचिव संघ ने “काम बंद कलम बंद” कर धरना प्रदर्शन में जनपद सदस्यों का समर्थन दिया है। सचिवों के धरना प्रदर्शन से जहां ग्राम पंचायतों में सभी कार्य प्रभावित हो रहे हैं तो वहीं ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा।
सदस्यों ने सीईओ पर आरोप लगाया है कि वे मनमानी पूर्वक काम करते हुए जनप्रतिनिधियों के साथ दुर्व्यवहार करते हैं।
हालांकि सीईओ ने इससे इनकार करते रहे । जनपद अध्यक्ष व सदस्यों ने स्पष्ट कर दिया है कि सीईओ को हटाने तक आंदोलन जारी रखेंगे। इस संबंध में कलेक्टर से भी मांग की गई है। जनपद में कांग्रेस समर्थित सदस्य होने के बाद भी कार्रवाई नहीं होने से नाराजगी बढ़ती जा रही है।सीईओ खोटेल को हटाने की मांग पर बैठे जनपद अध्यक्ष लता कंवर ने सीईओ खोटेल पर आरोप लगाते हुए बताया था कि सीईओ खोटेल शुक्रवार को धरने पर बैठे जनपद सदस्यों के बीच आकर बैठ गए थे और उन्होंने पहले तो उनके खिलाफ किये जा रहे धरना प्रदर्शन को समाप्त करने की गुजारिश की , जब जनप्रतिनिधियों ने इसका विरोध किया तो वे हंसते हुए और सभी का मजाक उड़ाते हुए वहां से चल दिये थे । इस तरह की हरकत की वजह से सीईओ खोटेल के खिलाफ जनप्रतिनिधियों का आक्रोश और बढ़ गया था।

कोरबा