एसीबी के राखड़ बांध का टूटा तटबंध ,खेतों में घुसा राखड़ युक्त पानी, फूटा जनाक्रोश

एसीबी के राखड़ बांध का टूटा तटबंध ,खेतों में घुसा राखड़ युक्त पानी, फूटा जनाक्रोश

एसडीएम के निर्देश पर प्रबंधन ने किया पानी का रूट डायवर्ट ,पर्यावरण विभाग ने दिए जांच के आदेश

हसदेव एक्सप्रेस न्यूज कोरबा । मानसून के सक्रिय होने से पिछले 24 घण्टों से हो रही झमाझम बारिश से कटघोरा विकासखण्ड के चाकाबुड़ा में संचालित एसीबी पावर प्लांट के राखड़ तटबंध टूट गया है। जिससे डेम का राखड़ युक्त पानी तेज बहाव में चाकाबुड़ा,एवं कसाई पाली के किसानों के खेतों में भर गया है और लोगों के घरों तक पहुंच गया है।प्रबंधन की लापरवाही पर प्रभावित किसानों ने मुख्यद्वार पर नारेबाजी करते हुए धरना दिया।
कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम ने राजस्व अमले के साथ मौके पर पहुंचकर प्रबंधन को राखड़ डेम का पानी तत्काल डायवर्ट करने के निर्देश दिए। कंपनी ने जेसीबी से राखड़ युक्त पानी के लिए मार्ग डायवर्ट कर दिया है। बारिश की संभावना को देखते हुए राजस्व अमला स्थिति पर नजर बनाया हुआ है।

यहां बताना होगा कि मानसून के सक्रिय होने के साथ ही साथ पूरे प्रदेश में रविवार से झड़ी लगी हुई है। झमाझम बारिश हो रही है। रविवार को एक ही दिन में जिले में 82 मिलीमीटर (साढ़े 3 इंच)औसत वर्षा दर्ज की गई है।झमाझम बारिश की वजह से जहाँ बस्तियों ,कालोनियों में जलभराव की स्थिति रही तो वहीं कटघोरा ब्लॉक के चाकाबुड़ा में संचालित एसीबी पावर प्लांट के राखंड बांध का तटबंध टूट गया है। तटबंध का एक बड़ा हिस्सा बहने की वजह से तेज बहाव के साथ राखड़ युक्त पानी डेम से लगे चाकाबुड़ा एवं कसियापाली के किसानों के खेतों तक पहुंच गया ।यहाँ तक कि लोगों के मकानों तक पानी पहुंच गया था।इससे नाराज ग्रामीणों ने मुख्यद्वार पर धरना देते हुए नारेबाजी शुरू कर दी।हालांकि प्रबंधन द्वारा सुध नहीं लेने पर 1 घण्टे बाद ही ग्रामीण वापस लौट गए। इधर घटना की सूचना मिलते ही कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने तत्काल संज्ञान लिया। उन्होंने एसीबी के राखड़ बांध टूटने सहित एसईसीएल प्रगति नगर दीपका में जलभराव की स्थिति का तत्काल जायजा लेते हुए आवश्यक कार्यवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। एसडीएम सूर्यकिरण तिवारी तत्काल राजस्व अमले के साथ मौके पर पहुंची। उन्होंने एसीबी पॉवर प्लांट के अधिकारियों को तत्काल राखड़ बांध से खेतों ,बस्तियों तक पहुंच रहे पानी की दिशा डायवर्ट करने के निर्देश दिए। प्रबंधन ने भी तत्परता दिखाते हुए जेसीबी से मार्ग डायवर्ट किया। तब जाकर बस्तियों में जा रहा पानी रुका। बारिश की स्थिति को देखते हुए प्रशासन नजर बनाया हुआ है। पर्यावरण विभाग ने भी घटना को गम्भीरता से लिया है।जांच की बात कही जा रही है।

वर्जन

शीघ्र जाँच कराएंगे

राखड़ बांध टूटने की घटना को गम्भीर है । शीघ्र उसकी जांच की कराएंगे । जिसके लिए विभागीय स्तर पर टीम गठित की जाएगी। जिले के सभी पॉवर प्लांटों को राखड़ बांध की सुरक्षा पुख्ता करनी होगी। इस कार्य में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

अंकुर साहू ,क्षेत्रीय अधिकारी ,पर्यावरण संरक्षण मंडल कोरबा

वर्जन

पानी का मार्ग डायवर्ट करवा दिया है

एसीबी के राखड़ बांध टूटने की घटना के बाद एसडीएम के द्वारा राजस्व अमले के साथ निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है। कंपनी ने राखड़ बांध से खेतों तक पहुंच रहे पानी के लिए मार्ग डायवर्ट कर दिया है।स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

शशिभूषण सोनी ,नायब तहसीलदार दीपका

कोरबा