पायलट श्रीवास्तव का दिल्ली में और पांडा का रायपुर में होगा अंतिम संस्कार: पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा गया शव

पायलट श्रीवास्तव का दिल्ली में और पांडा का रायपुर में होगा अंतिम संस्कार: पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंपा गया शव

रायपुर। रायपुर एयरपोर्ट में हुए छत्तीसगढ़ के सरकारी हेलिकॉप्टर हादसे में मारे गए दोनों पायलट का शुक्रवार को पोस्टमार्टम हुआ। अंबेडकर अस्पताल की मॉर्चुरी में दोनों के शव लाए गए। दिल्ली के रहने वाले पायलट कैप्टन एपी श्रीवास्तव और रायपुर के पायलट जीके पांडा के शवों की यहां जांच की गई। पोस्टमार्टम के वक्त तकनीकी विश्लेषण के लिए DGCA की टीम भी मौजूद रही।

रायपुर रेंज के आईजी ओपी पाल, एसएसपी एसएसपी प्रशांत अग्रवाल और जिले के कलेक्टर सौरभ कुमार भी मॉर्चुरी पहुंचे। दिल्ली के रहने वाले पायलट कैप्टन एपी श्रीवास्तव का परिवार भी रायपुर आया। कैप्टन श्रीवास्तव की पत्नी मंजू और बेटी पूर्वी भी दिल्ली से रायपुर आईं। पत्नी मंजू ने पति का शव देखा तो वह लड़खड़ा गईं, तब बेटी ने ही मुश्किल से संभाला। हादसे में मारे गए पायलट श्रीवास्तव का ताल्लुक पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के परिवार से है। वो पूर्व पीएम के बेटे और कैबिनेट मंत्री अनिल शास्त्री के साले थे। अनिल के बेटे दिल्ली के पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री भी रायपुर आए हैं। आदर्श ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि एयरफोर्स में ग्रुप कैप्टन एपी श्रीवास्तव छत्तीसगढ़ सरकार के हैलिकॉप्टर में ट्रेनिंग देने यहां आए थे। हमें बीती रात खबर मिली कि उनका हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया है। पायलट श्रीवास्तव का अंतिम संस्कार इंडियन एयर फोर्स के माध्यम से दिल्ली में शनिवार को किया जाएगा। रायपुर से जांच के बाद अब कैप्टन श्रीवास्तव का पार्थिव शरीर दिल्ली भेज दिया गया है। कैप्टन श्रीवास्तव मूलत: आजमगढ़ के रहने वाले थे। कुछ देर बाद छत्तीसगढ़ में पिछली सरकार में मुख्यमंत्री रहे डॉ रमन सिंह भी पहुंचे। उन्होंने भी दोनों पायलट को अपनी श्रद्धांजलि दी । डॉ रमन सिंह ने बताया कि अब पिछले कार्यकाल में उन्होंने छत्तीसगढ़ सरकार के पायलट जीके पांडा के साथ काम किया। उनके पारिवारिक संबंध थे, हादसे में हुई इस मौत से वो दुखी हैं, उनके लिए यह निजी क्षति की तरह है। साल 2010 से पायलट जीके पांडा छत्तीसगढ़ सरकार को अपनी सेवाएं दे रहे थे। मूलतः ओडिशा के रहने वाले पांडा एयरफोर्स से रिटायरमेंट के बाद छत्तीसगढ़ में सेवा दे रहे थे। उनका परिवार रायपुर में रहता था, पांडा का अंतिम संस्कार रायपुर में ही किया जा रहा है।

टेल रोटेटर में आई गड़बड़ी की वजह से हादसा

रायपुर रेंज के आईजी ओपी पाल ने बताया कि एयरपोर्ट पर डीजीसीए की टीम लगातार हेलिकॉप्टर क्रैश में मलबे की जांच कर रही है। अब तक हुई जांच में हेलीकॉप्टर के टेल रोटेटर में आई गड़बड़ी की वजह से हादसा होने की जानकारी सामने आई है। हालांकि ये लंबी प्रक्रिया है। इस जांच को पूरा होने में वक्त लगेगा। चॉपर का ब्लैक बॉक्स भी बरामद किया गया है जिसमें आखिरी वक्त में हुई पायलट की बातचीत रिकॉर्ड होती है, जिससे यह पता चल पाता है कि आखिर हादसा क्यों हुआ इसकी जांच की जा रही है।

ये हुआ था बीती रात

रायपुर के स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर गुरुवार रात सरकारी हेलिकॉप्टर अगस्ता वेस्टलैंड 109 पावर एलीट क्रैश हो गया। चॉपर में मौजूद दोनों पायलट्स की मौत हो गई है। लैंडिंग के दौरान चॉपर तेजी से जमीन से टकराया और बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। रायपुर के एसएसपी प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि हादसा रात 9 बजकर 10 मिनट पर यह हुआ। चॉपर के दो पायलट कैप्टन गोपाल कृष्ण पांडा और कैप्टन अजय श्रीवास्तव रात में फ्लाइंग प्रैक्टिस कर रहे थे। क्रैश में दोनों पायलट की मौत हो गई।

रायपुर