रायगढ़ में हर रोड के लिए टाइमलाइन ,कलेक्टर ने एक-एक किलोमीटर के लिए मांगी कार्ययोजना, पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के साथ सड़क निर्माण के संबंध में ली विभागों और ठेकेदारों की समीक्षा बैठक

रायगढ़ में हर रोड के लिए टाइमलाइन ,कलेक्टर ने एक-एक किलोमीटर के लिए मांगी कार्ययोजना
, पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा के साथ सड़क निर्माण के संबंध में ली विभागों और ठेकेदारों की समीक्षा बैठक

रायगढ़। जिले में जितनी भी सड़क बननी है, उसकी मैपिंग कर निर्माण एजेंसी से हर एक किलोमीटर की कार्ययोजना चाहिए। सड़क के किस हिस्से में काम होना है, कहां दिक्कत आ रही है, कब तक काम शुरू होगा, पूरा होने की टाइमलाइन क्या होगी, इन सब बिंदुओं के आधार पर यह कार्ययोजना होनी चाहिए। उक्त बातें गुरुवार को कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने सड़क निर्माण में जुड़े सभी विभागों और प्रमुख सड़कों के ठेकेदारों की बैठक में स्पष्ट निर्देश देते हुए कही।

जिले में जर्जर सड़कों के निर्माण और मरम्मत को लेकर कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आज कलेक्टर सभाकक्ष में सड़क निर्माण से जुड़े विभागों की अहम बैठक ली। पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीणा भी इसमें शामिल हुए। बैठक में जिले में निर्माण के लिए प्रस्तावित सड़कों की सड़कवार समीक्षा की गई। बैठक में प्रमुख रूप सड़कों के निर्माण किस स्तर पर है और किन कारणों से ये कार्य प्रभावित हो रहे हैं इन सब की विस्तार से समीक्षा की गई।
कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कहा कि अब चूंकि बारिश थम चुकी है, अत: सड़कों के मरम्मत और निर्माण का काम पूरी तेजी से शुरू किया जाए, तथा काम फील्ड में नजर आना चाहिए। उन्होंने कहा कि अब सड़क निर्माण की नियमित रूप से मॉनिटरिंग की जाएगी तथा हर 15 दिन में समीक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिले के प्रमुख मार्गो रायगढ़ से घरघोड़ा होते हुए धरमजयगढ़ तथा लैलूंगा, खरसिया से छाल होते हुए धरमजयगढ़ मार्ग के निर्माण व मरम्मत को प्रमुखता से शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने भू-अर्जन, फारेस्ट क्लीयरेंस तथा दूसरे तकनीकी कारणों के आधार पर अगर कही दिक्कत आ रही तो उसकी पृथक से जानकारी बनाकर कार्ययोजना में उल्लेख करने के निर्देश दिए जिससे उन समस्याओं का त्वरित निदान कर निर्माण का कार्य नियमित रूप से किया जा सके। कलेक्टर श्रीमती साहू ने सड़कों के निर्माण कार्य में तेजी के साथ गुणवत्ता का भी पूरा ख्याल रखने के निर्देश विशेष रूप से दिए। जिससे इस मार्ग पर पडऩे वाले टे्रफिक दबाव के अनुसार लम्बे समय तक चलने वाली सड़कें तैयार हो।
पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीणा ने अधिकारियों से कहा कि पूरे निर्माण कार्यों को छोटे-छोटे टार्गेट में बांटते हुए टाईम लाईन निर्धारित करें। जिसका विभागीय अधिकारी नियमित रूप से समीक्षा करते चले। इससे काम की गति भी बढ़ेगी तथा आ रही समस्याओं का निराकरण भी होता चलेगा। उन्होंने ठेकेदारों को विशेष निर्देश देते हुए कहा कि निर्माण कार्य के दौरान ट्रेफिक मैनेजमेंट एक बड़ा विषय होता है। इसके लिए आवश्यक है कि सभी अपनी एक टीम इस काम के लिए डेडिकेटेड रूप से लगाये जिससे ट्रेफिक भी सुचारू रहेगा और काम में रूकावट भी नहीं आयेगी। उन्होंने टे्रफिक मैनेजमेंट के लिए रोड में लगने वाले साईनेज, कैटआइस तथा अन्य दूसरे व्यवस्थाओं को भी नियमित रूप से लगाने के निर्देश दिए।बैठक में वन मंडलाधिकारी धरमजयगढ़ अभिषेक जोगावत, अपर कलेक्टर सुश्री संतन देवी जांगड़े, अपर कलेक्टर राजीव कुमार पाण्डेय, कार्यपालन अभियंता ए.के.दीवान, एम.आर.कौशिक एडीबी, ईई पीडब्ल्यूडी खाम्बरा, ईई पीएमजीएसवाय रायगढ़ वी.के.मिंज, ईई पीएमजीएसवाय धरमजयगढ़ ए.के.एक्का सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

ओव्हर लोड गाडिय़ों पर करें लगातार सख्त कार्यवाही

बैठक में निर्माण विभाग से अधिकारियों ने कहा कि लगातार ओव्हर लोड वाहनों की आवाजाही से भी सड़कों को काफी नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा कई ट्रक ऑपरेटर एक्सल ऊपर कर गाड़ी चलाते है जिससे शेष टायरों में लोड बढ़ जाता है तथा सड़कों को अधिक क्षति पहुंचती है। कलेक्टर श्रीमती साहू ने जिला परिवहन अधिकारी तथा एसडीएम को ओव्हर लोड वाहनों पर नियमित रूप से सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने इसके लिए उद्योगों से भी बात करने के निर्देश दिए। जिससे परिवहन के लिए निर्धारित सीमा के वजन का ही ट्रांसपोर्ट ट्रकों द्वारा किया जाए।

रायगढ़