कोरोना की दूसरी लहर: छह दिन में ही दोगुना से अधिक मिलने लगे मरीज, घट रही रिकवरी दर

कोरोना की दूसरी लहर: छह दिन में ही दोगुना से अधिक मिलने लगे मरीज, घट रही रिकवरी दर

विशेषज्ञों ने आशंका व्यक्त की है कि इस माह के अंत तक यह आंकड़ा 25 लाख से भी अधिक हो सकता है जो कि अब तक का विश्व स्तर पर एक रिकॉर्ड होगा। वहीं मौत के आंकड़ों को लेकर बात करें तो पिछले वर्ष 12 अक्तूबर के बाद पहली बार 900 से ज्यादा मरीजों की एक दिन में मौत हुई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में रिकवरी दर लगातार घटती जा रही है जोकि चिकित्सीय तौर पर गंभीर हालात की ओर इशारा कर रही है। देश में अभी रिकवरी दर 89.86 फीसदी तक आ चुकी है। वहीं सक्रिय दर बढ़कर 8.88 फीसदी तक पहुंच चुकी है

देश में पहली बार 12,01,009 सक्रिय मरीज हैं जिनका घर और अस्पतालों में उपचार चल रहा है। गौर करने वाली बात है कि पिछले एक दिन में 92,922 सक्रिय मामले बढ़े हैं जो कि भारत में कोरोना इतिहास में पहली बार हैं।
पलायन: महाराष्ट्र में लॉकडाउन के डर से फिर गांव लौटने लगे प्रवासी मजदूर

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, मध्यप्रदेश, गुजरात और राजस्थान में सबसे अधिक कोरोना के मामले मिल रहे हैं। महाराष्ट्र में पहली बार यह संख्या 63 हजार के पार चली गई। यहां 63,294 संक्रमित मिले। प्रदेश में 349 मौतें हुई हैं। देश में अब तक 1 करोड़ 35 लाख 27 हजार 717 लोग संक्त्रस्मण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 1 करो? 21 लाख 56 हजार 529 लोग ठीक हो चुके हैं। 1 लाख 70 हजार 179 मरीजों की मौत हो गई।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुताबिक कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए देश भर में बीते रविवार को 11,80,136 नमूनों की जांच की गई है। अब तक 25.78 करोड़ से अधिक नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है

कोरोना