अचानकमार टाइगर रिजर्व में हाथियों की धमक ,दहशत में ग्रामीण

अचानकमार टाइगर रिजर्व में हाथियों की धमक ,दहशत में ग्रामीण

बिलासपुर । अचानकमार टाइगर रिजर्व दोबारा हाथियों का दल पहुंच गया। यह हाथी वर्तमान में छपरवा रेंज के मैकूमठ परिसर में हैं। हालांकि इस दल के किसी भी हाथी ने नुकसान नहीं पहुंचाया है। पर गांव में दहशत का माहौल है। वन विभाग ग्रामीणों को सचेत रहने की अपील कर रहा है। साथ ही नजदीक न जाने का सुझाव भी दे रहा है। हाथियों का यह दल मध्य प्रदेश की तरफ चला गया था। अब दोबारा इनके पहुंचने से यही ग्रामीण यही सोच रहे हैं की हाथी घर या किसी व्यक्ति नुकसान न पहुंचा दें। हालांकि वन अमले का कहना है कि यह जंगल के अंदर जिस मार्ग से आए हैं, वैसे ही लौट जाएंगे। यदि किसी तरह इनके साथ कोई छेड़छाड़ नहीं करता है।

यही वजह है कि ग्रामीणों को बार-बार दूरी बनाए रखने और जंगल के अंदर न जाने की अपील की जा रही है। चूंकि अभी तक यह दल किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया है। इसलिए टाइगर रिजर्व की स्पेशल टाइगर प्रोटेक्शन फोर्स को निगरानी की जवाबदारी दी गई। सभी रेंज में इस फोर्स का गठन किया गया। इसलिए सभी निगरानी में जुटे हुए हैं। शनिवार को छपरवा एसटीपीएफ ने यह रिपोर्ट दी है कि दल में छह हाथी हैं और वर्तमान में मैकूमठ परिसर के कक्ष क्रमांक 212 में विचरण कर रहे हैं।

बिलासपुर