ज्ञानवापी मामले पर टीएमसी नेता की बीजेपी को चेतावनी ,सीएम योगी बंगाल आए तो करेंगे घेराव ….

ज्ञानवापी मामले पर टीएमसी नेता की बीजेपी को चेतावनी ,सीएम योगी बंगाल आए तो करेंगे घेराव ….

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस के नेता ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को चेतावनी दी है कि ‘अगर वह बंगाल आते हैं, तो हम उनका घेराव करेंगे’। टीएमसी नेता की यह चेतावनी वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में मौजूद व्यासजी तहखाने में हिंदुओं को पूजा करने की इजाजत दिए जाने के कुछ दिनों बाद आई है।

टीएमसी नेता सिद्दीकुल्ला चौधरी ने इसके साथ ही हिन्दुओं से ज्ञानवापी मस्जिद को तत्काल खाली करने की अपील की है।
ज्ञानवापी मस्जिद में पूजा पर रोक लगाने की मांग को लेकर कोलकाता में बुलाई गई जमीयत उलेमा-ए-हिंद की रैली में चौधरी ने सीएम योगी आदित्यनाथ की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर वह यहां कहीं आते हैं, तो उन्हें बाहर नहीं जाने दिया जाएगा. चौधरी ने कहा, ‘इन लोगों (हिन्दुओं) ने वहां जबर्दस्ती पूजा शुरू कर दी है. वे लोग ज्ञानवापी मस्जिद को तत्काल खाली कर दें। टीएमसी नेता ने इसके साथ ही कहा कि ‘हम किसी मंदिर में नमाज पढ़ने नहीं जाते… तो वे हमारी मस्जिदों में क्यों आ रहे हैं? अगर कोई हमारी मस्जिद को मंदिर बनाना चाहता है तो हम चुप नहीं बैठेंगे. ऐसा नहीं होगा.’ इससे साथ ही उन्होंने सवाल किया, ‘वह मस्जिद (ज्ञानवापी) 800 साल से ज्यादा समय से वहां है. वे इसे कैसे ध्वस्त करेंगे?’
टीएमसी नेता की यह चेतावनी वाराणसी जिला अदालत के उस फैसले के बाद आई है, जिसमें उसने ज्ञानवापी मस्जिद के दक्षिणी तहखाने में पूजा की इजाजत दे दी थी. कोर्ट के इस आदेश के बाद ज्ञानवापी परिसर में व्यासजी के तलघर में पूजा और आरती आदि शुरू हो गई।

वहीं मस्जिद समिति ने तर्क दिया कि यह मामला पूजा स्थल (विशेष प्रावधान) अधिनियम, 1991 द्वारा वर्जित है। व्यासजी का तहखाना ज्ञानवापी मस्जिद का हिस्सा है. ऐसे में पूजा करने की यह मांग स्वीकार्य नहीं और इसे खारिज किया जाना चाहिए।

देश विदेश