दोस्त के जन्मदिन पर हर्ष फायरिंग पड़ा महंगा, बंदूक के साथ 5 गिरफ्तार

दोस्त के जन्मदिन पर हर्ष फायरिंग पड़ा महंगा, बंदूक के साथ 5 गिरफ्तार

गुना। मध्यप्रदेश के गुना में दोस्त को जन्मदिन में खुश करने के लिए में हर्ष फायरिंग करना महंगा पड़ गया। दोस्त का जन्मदिन मनाने के लिए 200 किलोमीटर दूर ग्वालियर से गुना आए हुए दोस्तों ने बीच मोहल्ले में हर्ष फायर कर दिया। फायरिंग की वजह से इलाके में दहशत का माहौल है। इस हरकत से कोई भी बड़ी अनहोनी घटना हो सकती थी। इस मामले में पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना शहर के सिसोदिया कॉलोनी की है, जहां 30 मई को शाम 4 बजे शराब व्यवसायी के घर पास एक सेलेरियो कार से 4 से 5 लड़के उतरे और इनमें से एक ने 315 बोर की अदिया बंदूक से बीच सड़क पर हवाई फायर कर दिया। इस घटना के साक्षी एक शख्स ने इस मामले में कोतवाली थाने में इसकी शिकायत की। शहर के बीचो-बीच रहवासी क्षेत्र में बीच सड़क पर हवाई करने का मामला पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार मिश्रा के संज्ञान में आया। उन्होंने हवाई फायर करने वालों की शीघ्र गिरफ्तारी के लिए गुना कोतवाली टीआई के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर आरोपियों की गिरफ्तारी के संबंध में जरूरी निर्देश दिए। पुलिस टीम ने शहर के संभावित सीसीटीवी कैमरे को खंगालना शुरू कर दिया।

इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि सिसोदिया कॉलोनी में हवाई फायर करने वाले लोग बजरंगढ़ के पास जन्मदिन पार्टी मना कर सफेद रंग की सेलरियो कार से गुना की ओर निकले। सूचना मिलते ही पुलिस टीम हड्डी मील के आगे शनि मंदिर तिराहे पर पहुंची और वहां पर उक्त कार को रोक लिया गया और कार में सवार पांच लोगों को हिरासत में लेकर नाम पता पूछने पर उन्होंने अपने नाम पीयूष पुत्र नरेश सिंह तोमर उम्र 23 साल, गिर्राज पुत्र रामस्वरूप शर्मा उम्र 29 साल, दीपक पुत्र मोतीलाल रावत उम्र 21 साल, दीपक पुत्र राजबहादुर शर्मा उम्र 30 साल एवं आशीष पुत्र दिनेश उम्र 21 साल निवासी सीपी कॉलोनी मुरार ग्वालियर के होना बताया उन्होंने पुलिस को बताया कि ग्वालियर से गुना अपने दोस्त के जन्मदिन में शामिल होने आए थे और हमारे सिसोदिया कॉलोनी गुना स्थित अपने दोस्त के घर के बाहर पहुंचने पर दोस्त के जन्मदिन की खुशी में गिर्राज शर्मा की लाइसेंसी 315 बोर की अदिया बंदूक से दीपक रावत ने हवाई फायर की थी, इसके बाद हम लोग वहां से पार्टी करने के लिए निकल गए थे। कार की तलाशी लेने पर कार में 315 बोर की अदिया बंदूक मिल गई और इनके पास ग्वालियर के एक आरक्षक का फर्जी आईडी कार्ड भी मिला। जिसका उपयोग उनके द्वारा रास्ते में टोल नाको में किया गया था। पुलिस द्वारा आरोपियों को कब्जे से 315 बोर की अदिया बंदूक सिलेरियो कार क्र. एमपी 07 सीजी 6625 एवं पुलिस आरक्षक के नाम का फर्जी आईडी जब्त किया गया है और पांचों को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपियों के खिलाफ धारा 419, 188,269 270 व आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 तथा 30 आर्म्स एक्ट की धाराओं का इजाफा किया गया है। पांचों आरोपियों को पुलिस ने आज न्यायालय के समक्ष पेश किया।

देश विदेश